Wednesday, 9 January 2013

जेल में बेठे बेठे ओवेशी ने सोचा तो होगा आखिर हम से भूल क्या हो गई .... ???

हिन्दुओ को ललकारा, मोदीजी के लिए जहर उगला, पुलिस को नामर्द कहा, कसाब के लिए प्रेम उमड़ा सब ठीक .... चुक बस इतनी की सोनिया जी की तारीफ में कसीदे नहीं पढ़े .... 

काश के कह देता "मैं जान दे सकता हु ........... आदि आदि "

कुछ होता भी नहीं और मंत्री पद अलग से इनाम में मिलता सो अलग ..... !

No comments:

Post a Comment