Wednesday, 30 January 2013

जाएं हम किधर .... ? 
जिंदगी अब बस उदासियों का कारवां ... । 

जिंदगी की इस सफ़र में ....
राह भी अजनबी , हर मोड़ भी अजनबी .... 
हर कोई यहाँ अजनबी ही अजनबी .... । – लिली कर्मकार

No comments:

Post a Comment