Wednesday, 23 January 2013

अपनों की दुनिया में यहाँ अपना कौन है ... ? 
यहाँ अपने तो सभी है लेकिन अपनेपन का अभाव है .... ! 
न ग़म से कोई शिकायत हो न तो खुशी की कोई आस हो .... 
बस अंधेरे में भी उजाले की किरण हो .... ! - लिली कर्मकार

No comments:

Post a Comment