Sunday, 18 May 2014

जितना माद्दा दिग्विजय सिंह के एक बयान में

भाजपा के किसी प्रचारक में इतनी सामर्थ्य नहीं है जितना माद्दा दिग्विजय सिंह के एक बयान में होता है सीधा एक बयान से दस हजार वोटों को भाजपा के पक्ष में लामबंद करने की कला दिग्विजय में है उन्होंने पूरे चुनाव भर अपना सुन्दर मुख बंद रखा लेकिन दिल पर किसी का बस नहीं तो ऐसा कारनामा किया कि जिसके लिए उन्हें काँग्रेस की सौ पीढियां कभी माफ़ नहीं करेंगी । 


मैने पूरे लोकसभा चुनाव के समय दिग्गी जी के बयानों को मिस किया .... ।

No comments:

Post a Comment