Tuesday, 13 May 2014

सुप्रीम कोर्ट ने

सुप्रीम कोर्ट ने बाबा रामदेव के हनीमून वाले बयान को जानबूझ कर दलितों से जोड़ने वाली शिकायतों पर होने वाली कार्यवाही पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी है , एवं किसी भी प्रकार की गिरफ्तारी या बाबा रामदेव के खिलाफ़ किसी भी कार्यवाही पर रोक लगा दी है ।

साथ ही शिकायत कर्ताओं को आगामी आठ सप्ताह के भीतर ऐसा उतावलापन दिखाने के लिए कारण बताओ नोटिश जारी किया है ....!!


आज फ़िर देश की न्याय व्यवस्था पर आस्था अत्यंत गहरी हो गयी , .....!!  

No comments:

Post a Comment